सुभाष नगर फायरिंग मामले में आरोपी शूटर गिरफ्तार, जेल में बंद गैंगस्टर ने चलवाई थी गोली

सुभाष नगर फायरिंग मामले में आरोपी शूटर गिरफ्तार, जेल में बंद गैंगस्टर ने चलवाई थी गोली

National

Delhi Crime News:  सुभाष नगर इलाके में सरेआम हुई फायरिंग की घटना में जेल कनेक्शन सामने आया है. पुलिस का दावा है कि इस वारदात के पीछे सलमान त्यागी – सद्दाम गौरी गैंग का हाथ है. सलमान त्यागी तिहाड़ जेल में बन्द है और उसने जेल के अंदर से ही इस हमले को अंजाम दिलवाया है. स्पेशल सेल ने इस गैंग के एक शूटर को गिरफ्तार किया है, जिसने अजय चौधरी व उसके भाई यशपाल उर्फ जस्सा चौधरी पर गोली चलाई थी. आरोपी का नाम पारस(30) है. पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल की गई सेमी आटोमेटिक पिस्तौल व 6 कारतूस बरामद की है.

सीसीटीवी में गोली चलाता दिख रहा है पारस
स्पेशल सेल के डीसीपी राजीव रंजन सिंह ने बताया कि 7 मई को सुभाष नगर में कार में सवार दो लोगों को गोली मारने का मामला सामने आया था. जांच के दौरान पता चला कि इसमें डाबड़ी इलाके का रहने वाला पारस भी शामिल है, जो फरार है. स्पेशल सेल की वेस्टर्न रेंज की टीम को सूचना मिली, जिसके बाद 9 मई को पंखा रोड, सीतापुरी कट से पारस को पकड़ लिया गया. वह गली नंबर 4 सीतापुरी पार्ट टू डाबड़ी का रहने वाला है. इसके पास से एक सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल और 6 जिंदा कारतूस बरामद किए गए. पुलिस का दावा है कि वारदात के सीसीटीवी फुटेज में पारस गोली चलाता नज़र आ रहा है. उसी से उसकी पहचान भी हो पाई. वह बाएं हाथ में पिस्तौल लिए दिख रहा है.

आरोपी ने किया खुलासा सलमान त्यागी ने करवाया हमला
पुलिस का दावा है कि आरोपी ने पूछताछ में खुलासा किया कि वह गैंगस्टर सलमान त्यागी और सद्दाम गौरी गैंग का शार्प शूटर है. ये बदमाश मकोका के तहत जेल में बंद हैं. पुलिस की जांच में ये सामने आया है कि सलमान त्यागी और केशोपुर सब्जी मंडी के पूर्व प्रधान अजय चौधरी के बीच पुरानी रंजिश है. इस कारण जेल में बंद सलमान त्यागी ने उसे मारने की साजिश रची. आरोपी पारस पिछले महीने ही 28 अप्रैल को जेल से बाहर आया था. साजिश के तहत सलमान त्यागी के निर्देश पर पारस, अदनान त्यागी और फैजल ने 7 मई को अजय चौधरी और उसके भाई यशपाल के ऊपर फायरिंग की. दोनों कालरा हॉस्पिटल में किसी रिश्तेदार से मिलने जा रहे थे. गोली लगने से दोनों गंभीर रुप से जख्मी हो गए. वारदात के बाद तीनों हमलावर मौके से फरार हो गए. दोनों भाईयों को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

बगैर नंबर की बाइक के साथ पकड़ा गया पारस
पुलिस ने बताया कि 8/9 मई की दरम्यानी रात पारस बिना नंबर की प्लेट की बाइक से अपने घर की ओर सीतापुरी डाबड़ी जा रहा था. तभी पुलिस ने उसे दबोच लिया. इसके पास से पिस्टल और छह जिंदा कारतूस बरामद किए गए. जिस कारण उसके खिलाफ स्पेशल सेल थाने में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की गई.

पुलिस ने बताया कि वारदात में इस्तेमाल स्कूटी संगम विहार इलाके से चुराई गई थी. जिसे पुलिस ने डीडीए पार्क, गांव बेगमपुर से बरामद किया. आरोपी पारस नौंवी कक्षा तक ही पढ़ा है. वह मूलरुप से मुंगेर बिहार का रहने वाला है. इस पर 6 अपराधिक केस दर्ज हैं.

ज्ञात रहे कि इस मामले में पश्चिमी जिला पुलिस ने एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिस पर आरोपियों को स्कूटी उपलब्ध कराने का आरोप है.

यह भी पढ़ें: 

Lakhimpur Kheri Case: जेल से कोर्ट जाते समय मूंछों पर ताव देते नजर आया आशीष मिश्रा, देखें वीडियो

यासीन मलिक ने आतंकवाद से संबंधित मामले में आरोप स्वीकार किए, 19 मई को सजा पर होगी सुनवाई

https://www.abplive.com/news/india/accused-shooter-arrested-in-subhash-nagar-firing-case-jailed-gangster-had-fired-ann-2120824

Leave a Reply

Your email address will not be published.