लखीमपुर खीरी केस: जेल से कोर्ट जाते समय मूंछों पर ताव देते नजर आया आशीष मिश्रा, देखें वीडियो

लखीमपुर खीरी केस: जेल से कोर्ट जाते समय मूंछों पर ताव देते नजर आया आशीष मिश्रा, देखें वीडियो

National

Lakhimpur Kheri Case: लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की खुद को आरोपों से अलग करने की अर्जी (डिस्चार्ज एप्लीकेशन) पर अभियोजन पक्ष ने मंगलवार को अपनी आपत्ति दाखिल की. जिला शासकीय अधिवक्ता अरविंद त्रिपाठी ने बताया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश मुकेश मिश्रा की अदालत में आशीष मिश्रा की अर्जी पर अभियोजन पक्ष ने अपनी आपत्ति दाखिल कर दी है.

मामले के पांच अन्य अभियुक्तों अंकित दास, लतीफ उर्फ काले, सत्यम त्रिपाठी, शेखर भारती और नंदन सिंह बिष्ट की ओर से भी आरोपों से अलग करने की अर्जी दाखिल की गयी. इस पर अभियोजन पक्ष ने अदालत से आग्रह किया कि वह उन पांचों अभियुक्तों की अर्जी पर अपनी आपत्तियां दाखिल करने के लिये उसे कुछ समय दे. त्रिपाठी ने बताया कि अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तिथि 24 मई नियत की है.

 इससे पहले केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ के बेटे और तिकोनिया कांड के मुख्य अभियुक्त आशीष मिश्रा उर्फ मोनू को मामले की सुनवाई के लिये कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया गया. अदालत लाये जाते वक्त मिश्रा मूंछों पर ताव देते हुए जाता नजर आया. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

सुनवाई के दौरान अन्य अभियुक्तों को भी अदालत में हाजिर किया गया. लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया गांव में पिछली तीन अक्टूबर को किसानों के प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गयी थी.

मरने वालों में दो बीजेपी कार्यकर्ता और एक वाहन चालक भी शामिल था. इस मामले में दो मुकदमे दर्ज किये गये हैं. पहला मुकदमा चार किसानों और एक पत्रकार की मौत से सम्बन्धित है.

इस मामले में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री टेनी का बेटा आशीष मिश्रा मुख्य अभियुक्त है. वहीं, अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया दूसरा मुकदमा दो भाजपा कार्यकर्ताओं समेत तीन लोगों की मौत से जुड़ा है.

विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) ने दोनों मामलों की जांच कर अदालत में आरोप पत्र दाखिल कर दिये हैं. एसआईटी ने पहले मुकदमे में दाखिल आरोप पत्र में केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी समेत 14 लोगों को अभियुक्त बनाया है.

वहीं, दूसरे मुकदमे में चार लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है. ये दोनों ही मुकदमे लखीमपुर खीरी की जिला एवं सत्र अदालत में विचाराधीन हैं.

Lakhimpur Kheri Case: हाई कोर्ट की सख्त टिप्पणी, कहा- मंत्री ने अगर किसानों को खदेड़ने की धमकी नहीं दी होती तो…

https://www.abplive.com/news/india/lakhimpur-kheri-case-ajay-mishra-s-son-ashish-twirls-his-moustache-ahead-of-being-produced-before-the-court-2120807

Leave a Reply

Your email address will not be published.