नवनीत राणा की तस्वीर पर BMC की नोटिस पर लीलावती अस्पताल ने दिया जवाब, बताई ये वजह

नवनीत राणा की तस्वीर पर BMC की नोटिस पर लीलावती अस्पताल ने दिया जवाब, बताई ये वजह

National

Lilavati Hospital Admistration Explains About Navneet Rana MRI Pic: बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने अमरावती के सांसद नवनीत राणा (MP Navneet Rana) की एक तस्वीर को लेकर लीलावती अस्पताल से जवाब मांगा था. आज लीलावती अस्पताल ने उस तस्वीर को लेकर अपना जवाब बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC)को सौंप दिया है. लीलावती अस्पताल (Lilavati Hospital Administration) प्रशासन ने बताया कि ये तस्वीर नवनीत राणा के कार्यकर्तओं ने चुपके से ली है. अगर अस्पताल के किसी कर्मचारी या गार्ड ने ये तस्वीर ली होगी तो अस्पताल प्रशासन उस पर उचित कार्रवाई करेगा.  

आपको बता दें कि इसके पहले 7 मई को बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने मुंबई के लीलावती अस्पताल को कारण बताओ नोटिस जारी किया था और तीन दिन के अंदर इस बात का जवाब मांगा था कि अमरावती सांसद जिस समय अस्पताल में एमआरआई करवा रहीं थीं उस समय किसने उनकी तस्वीरें खींची थी. राणा दंपत्ति ने इन तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर भी शेयर किया था जिसके बाद ये तस्वीरें सोशल मीडिया में भी वायरल हो गईं थीं. 

बीएमसी ने जारी किया था नोटिस
इसके पहले महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री के बाहर हनुमान चालिसा पढ़ने में अमरावती से सांसद नवनीत राणा को गिरफ्तार किया गया था. जेल से छूटने के बाद राणा सीधे लीलावती हॉस्पिटल में एडमिट हुई थी. इस दौरान उनके कई टेस्ट किए गए थे. जिसमें MRI टेस्ट भी शामिल था. इसी टेस्ट के दौरान किसी ने उनकी तस्वीरें क्लिक की थी, जिनको लेकर विवाद बढ़ा था और बीएमसी ने नोटिस जारी किया था.

शिवसेना ने राणा दंपत्ति को घेरने की कोशिश की
राणा दंपत्ति पर इस बात आरोप है कि जब वह लीलावती हॉस्पिटल में एडमिट थी तब MRI टेस्ट के दौरान किसी ने राणा की टेस्ट के वक्त की तस्वीरें क्लिक कीं. बाद में राणा दंपति ने इन तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया. शिवसेना पहले से राणा दंपत्ति को घेरने की कोशिश कर रही थी. इन तस्वीरों के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद उसे राणा दंपत्ति को घेरने का एक मौका और मिल गया था.

महापौर किशोरी पेडणेकर ने उठाया सवाल
इस मुद्दे को लेकर महापौर किशोरी पेडणेकर ने लीलावती अस्पताल से सवाल पूछा है. उनका कहना था कि जब नियम के मुताबिक अस्पताल के अंदर एमआरआई  रूम में किसी भी प्रकार का तस्वीर निकालने और धातुजन्य चीजें लेकर जाने की मनाही होती है. तो फिर वहां मोबाइल फोन लेकर कौन गया था?

यह भी पढ़ेंः
BMC ने राणा दंपत्ति को भेजा कारण बताओ नोटिस, 7 दिनों के भीतर मांगा जवाब

Jharkhand Politics: झारखंड सरकार में कांग्रेस विधायक नाराज, 14 मई को करेंगे आलाकमान से मुलाकात

https://www.abplive.com/news/india/lilavati-hospital-responded-to-bmcs-notice-on-navneet-ranas-picture-explained-the-reason-ann-2120729

Leave a Reply

Your email address will not be published.