ज्ञानवापी मस्जिद विवाद पर बोले असदुद्दीन ओवैसी - 1990 का माहौल बनाना चाहती है बीजेपी

ज्ञानवापी मस्जिद विवाद पर बोले असदुद्दीन ओवैसी – 1990 का माहौल बनाना चाहती है बीजेपी

National

Owaisi on Gyanvapi Mosque Row: वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे को लेकर बहस जारी है. इसी बीच एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी इस मामले पर बयान दिया है. जिसमें उन्होंने कहा है कि, बीजेपी नफरत की राजनीति करती है. साथ ही ओवैसी ने कहा कि, पीएम मोदी को इस मसले पर बोलना चाहिए. 

‘1990 के माहौल को पैदा करना चाहती है बीजेपी’
ज्ञानवापी मस्जिद पर ओवैसी ने कहा कि, साजिश तो नकवी की पार्टी कर रही है. उनकी सरकार को कोर्ट को 1991 के ससंद के फैसले के बारे में बताना चाहिए था. लेकिन आप नफरत की राजनीति करते हैं. इसलिए खामोश हैं. इस मसले को बीजेपी तूल दे रही है. वो दोबारा 1990 के माहौल को पैदा करना चाहते हैं. प्रधानमंत्री को बोलना चाहिए. निचली कोर्ट का फैसला गलत है.

इसके अलावा ओवैसी ने राहुल गांधी के तेलंगाना दौरे को लेकर कहा कि, कोई भी तेलंगाना की खूबसूरती देख कर जा सकता है. उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दिख रहा है कि उन्हें पता ही नहीं कि भाषण में क्या बोलना है! यानी आपका दिमाग खाली है. आप कैसे टीआरएस का मुकाबला करेंगे? अब तो वायनाड भी हार जाएंगे, हैदराबाद, सिकंदराबाद में किस्मत आजमाने आ जाइए.

मंदिरों-मस्जिदों के बाहर लगाइए कैमरे
मस्जिदों के बाहर कैमरे लगाने के अपने बयान पर औवेसी ने कहा कि, पूरे भारत के मुसलमानों और मंदिरों से भी अपील है कि जो भी जुलूस निकले अच्छे कैमरे लगाइए, क्योंकि पुलिस अंधी है. हर गलती मुसलमान करता है! इसके अलावा ओवैसी ने हैदराबाद हत्याकांड को लेकर कहा कि, मीडिया मुझे नहीं बता सकता कि कब बोलना है, मीडिया मोदी के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं करता. सरकार ने दोषियों को गिरफ्तार किया. क्या इस घटना के बाद क्या कोई कातिल के समर्थन में खड़ा है? औवेसी ने कहा कि, मध्य प्रदेश के जबलपुर में बीजेपी सरकार ने आसिफ नाम के लड़के का घर इसलिए तुड़वा दिया, क्योंकि वो हिन्दू लड़के से प्यार करता था. नोएडा में मुस्लिम लड़की से रेप करने वाले लड़कों को वीएचपी ने माला पहनाई. 

समान नागरिक संहिता पर दिया जवाब
समान नागरिक संहिता को लेकर ओवैसी ने कहा कि, आदिवासियों में बहू विवाह का प्रावधान है. हिंदू कानूनों में तमाम तरह का जिक्र है. क्या उसमें बदलाव करेंगे? डायरेक्टिव प्रिंसिपल में शराब पर रोक का प्रावधान है. संसाधनों का समान बंटवारा करिए. इस देश में समान नागरिक संहिता की जरूरत नहीं है. जनगणना में पता कर लीजिए कि किसके पास कितनी पत्नी है?

यूपी में बुलडोजर विवाद पर उन्होंने कहा कि, हिंदी पट्टी के मुसलमान मेरी बात समझें जो आपके वोटों की दलाली करते हैं उन्हें पहचानें. रोजा हम करें, खजूर कोई और खाए! वहीं बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर ओवैसी ने कहा कि, बीजेपी की असम सरकार ने क्या गिरफ्तारी (जिग्नेश की) नहीं की? ये क्या तमाशा है? कानून का पालन नहीं किया जा रहा. ओवैसी ने कहा कि, 
चुनाव में मुसलमानों का वोट मांगने वाले, चूहे की तरह बिल में घुसे हुए हैं. गुजरात, दिल्ली नगर निगम से लेकर जहां- जहां चुनाव होंगे वहां हम लड़ेंगे.

ये भी पढ़ें: 

लाउडस्पीकर मुद्दे से सबसे ज्यादा नुकसान हिंदू समाज को, महंगाई की ओर किसी का ध्यान नहीं: संजय राउत

Loudspeaker Row: यूपी में कम हुआ शोर, किस जोन में कितने धार्मिक स्थलों से हटाए गए अवैध लाउडस्पीकर, ये है पूरा आंकड़ा

https://www.abplive.com/news/india/gyanvapi-mosque-row-asaduddin-owaisi-slams-modi-govt-says-want-to-create-1990-situation-pm-modi-should-speak-ann-2118436

Leave a Reply

Your email address will not be published.