एक्शन में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, लापरवाही बरतने वाले इन अधिकारियों को किया सस्पेंड

एक्शन में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, लापरवाही बरतने वाले इन अधिकारियों को किया सस्पेंड

National

Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन दिनों लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर फैसला ऑन द स्पॉट ले रहे हैं. तीन दिनों में मुख्यमंत्री ने कई अधिकारियों को ग्रामीणों की शिकायत पर निलंबित कर दिया है. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने मुख्यमंत्री के इस भेंट मुलाकात पर सवाल खड़े किए हैं.

इन दिनों मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 90 विधानसभा क्षेत्रों के दौरे पर निकले हैं. इसकी शुरुआत सरगुजा संभाग से हुई है. जहां से कई तस्वीरें सामने आईं हैं. मुख्यमंत्री आम नागरिकों से बड़ी सहजता से भेंट कर रहे हैं और सरकारी योजनाओं पर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर लगातार गाज भी गिरती जा रही है. 

ये हैं मामले जिनमें नपे हैं सरकारी अधिकारी

केस नंबर एक
शशिकला नाम की महिला ने मुख्यमंत्री से शिकायत की कि उसका नाम गरीबी रेखा सूची से काट दिया गया है और उसके पास राशन कार्ड नहीं है. शिकायत मिलने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टर से बात की और नगर पंचायत सीएमओ को निलंबित करने के निर्देश दिए.

केस नंबर 2
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सनावल में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान जनता की शिकायत पर कन्हर अंतरराज्यीय परियोजना के अंतर्गत भू-अर्जन प्रकरणों के त्वरित निराकरण में लापरवाही बरतने के कारण कार्यपालन अभियंता कार्यालय अधीक्षण अभियंता श्याम बरनई परियोजना मण्डल अम्बिकापुर उमाशंकर राम को निलंबित कर दिया.

केस नंबर 3
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रघुनाथ नगर की चौपाल में आम नागरिकों की शिकायत पर तत्काल कार्यवाही करते हुए पटवारी पन्नालाल सोनवानी को निलंबित करने के निर्देश दिए. पटवारी के खिलाफ किसानों से रिश्वत लेने की शिकायत की गई थी.

केस नंबर 4
आवर्ती चराई एवं गौठान निर्माण में उदासीनता बरतने पर मुख्यमंत्री ने डीएफओ समेत तीन को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड किया. डीएफओ मनीष कश्यप, पूर्व प्रभारी डीएफओ बी एस भगत और लापरवाही पर रेंजर भी सस्पेंड किए गए हैं. भेंट मुलाकात के दौरान गोविंदपुर के ग्रामीणों ने शिकायत की थी.

क्या बोले हैं पूर्व सीएम ? 

इधर छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता डॉ रमन सिंह ने सीएम भूपेश बघेल के भेंट मुलाकात यात्रा पर सवाल उठाया है. रमन सिंह ने कहा है की समस्याओं का निराकरण नहीं हो रहा है ये 5 स्तर यात्रा है. रेड कारपेट बिछाई जा रही है. खाट गद्दा और चकाचक सफेद चादर दिखाई दे रहा है.लेकिन सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है.

वहीं छत्तीसगढ़ कांग्रेस के संचार विभाग प्रमुख ने रमन सिंह के बयान पर पलटवार किया. सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि रमन सिंह को आत्मावलोकन करना चाहिए की 15 साल सत्ता में रहने के बाद भी बीजेपी 3/4 बहुमत से पराजित हो गई. डॉ रमन सिंह की यात्रा और भूपेश बघेल की यात्रा में फर्क है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सब से मिल रहे हैं. जो बेहतर काम कर रहे हैं उनको शाबाशी दे रहे हैं और जो खराब काम कर रहे हैं उनको दंड भी दे रहे हैं. 1- 1 योजना की समीक्षा की जा रही है.

Tajinder Bagga Arrest: दिल्ली में बग्गा समर्थकों ने पंजाब पुलिस हाय-हाय के लगाए नारे, गाड़ी पर भी किया हमला

Delhi MLA Salary Hike: दिल्ली के विधायकों की तनख्वाह 54 हजार से बढ़कर अब होगी 90 हजार, केंद्र से मिली मंजूरी

https://www.abplive.com/news/india/chhattisgarh-cm-bhupesh-baghel-seen-in-action-suspended-officers-for-being-ignoring-ann-2117928

Leave a Reply

Your email address will not be published.